Mahatma Gandhi

और गांधीजी को नहीं मिला नोबेल

महात्मा गांधी की मृत्यु के 58 साल बाद 2006 में दिए अपने सार्वजनिक वक्तव्य में नोबेल कमिटी ने कहा था - “The greatest omission...
Mohammad Rafi

रफी: आवाज़ भी अधूरी है जिनके बिना

ओ दुनिया के रखवाले (‘बैजू बावरा’), बहारों फूल बरसाओ (‘सूरज’), खोया खोया चांद (‘काला बाजार’), मैं जिन्दगी का साथ (‘हम दोनों’), लिखे जो खत...
Didarganj Yakshini

अतीत के झरोखे से : 1

‘बोल बिहार’ में ‘बोल अतीत’ के अन्तर्गत पिछली बार हमने पटना संग्रहालय से आपको रू-ब-रू कराया था। अब इसके भीतर की सैर के लिए...
Agrasen ki Baoli

अपनी यादों में खोई अग्रसेन की बावली

दिल्ली के बाराखंबा मेट्रो स्टेशन से जैसे ही मैं बाहर निकली, चिलचिलाती धूप ने स्वागत किया। लेकिन ऐतिहासिक चीजों को देखने की मेरी ललक...
Gauhar Jaan

कौन थीं गौहर जान?

बहुत कम लोगों को पता है कि कोलकाता की उच्च शिक्षित तवायफ गौहर आधुनिक भारत की पहली ऐसी गायिका थीं, जिन्होंने सुगम और अर्द्धशास्त्रीय...
Curse of 200 Years

और श्राप ने 200 सालों से नहीं बढ़ने दिया वंश

एक ऐसा गांव जहां पुरखों के श्राप की वजह से 200 सालों से नहीं दिया जाता कोई निमंत्रण। जी हां, बात चाहे काल्पनिक लगे...
Patna Museum

राजपूत-मुगल शैली से बना है पटना संग्रहालय

अक्सर हम अपने आसपास बिखरे अतीत से अनभिज्ञ होते हैं। उदाहरण के लिए पटना के प्रसिद्ध संग्रहालय को ही लें। शहर के बीचों-बीच स्थित...
Mahatma Gandhi and Kasturba with Rabindranath Tagore at Santiniketan on 20th Feb, 1940

गुरुदेव का पत्र बापू के नाम

प्रिय महात्माजी, आपने आज सुबह ही हमारे कार्य के विश्वभारती-केन्द्र का सिंहावलोकन किया है। मैं नहीं जानता कि आपने इसकी मर्यादा का क्या अंदाज लगाया...
Ganesh Shankar Vidyarthi

‘मुझे तो उनके बलिदान पर ईर्ष्या है’

अपनी कलम से अंग्रेजों के शासन की नींव हिला देने वाले गणेश शंकर विद्यार्थी का जन्म 26 अक्टूबर 1890 को इलाहाबाद में हुआ था।...
chanakya

मौर्य साम्राज्य के संस्थापक अब ‘गुफा’ को रोते हैं!

चाणक्य, जिन्होंने भारतवर्ष को पहला सम्राट दिया, जिनसे ‘अर्थशास्त्र’ को अर्थ मिला और निर्विवाद रूप से जिनका नाम कूटनीति का पर्याय है, आज खुद...