स्पेन की फेमिनिस्ट कैबिनेट

0
88
Spain's Feminist Cabinet
Spain's Feminist Cabinet

स्‍पेन में हाल ही में नई (समाजवादी) सरकार आई है और इसके मुखिया हैं 46 वर्षीय पैड्रो सांचेज। बुधवार को प्रधानमंत्री सांचेज ने अपनी 17 सदस्यीय कैबिनेट का ऐलान किया जिसमें 11 यानि लगभग दो तिहाई महिलाएं हैं। स्पेन और यूरोपीय देशों के इतिहास में यह पहला मौका है जब किसी सरकार में महिलाओं को इतनी बड़ी भागीदारी दी गई हो। सांचेज ने अपने मंत्रियों के नाम की घोषणा मोनक्लोआ पैलेस से की और गुरुवार को स्पेन के राजा फिलिप-6 ने इन सभी को शपथ दिलाई गई।

स्‍पेन के युवा प्रधानमंत्री ने अपने मंत्रियों के नाम की घोषणा करते हुए कहा कि उनकी नई सरकार ‘साफ तौर पर समानता के लिए प्रतिबद्ध है’ और स्‍पेन के समाज में होने वाले बदलावों को प्रदर्शित करना चाहती है। उन्होंने कहा कि स्‍पेन में सन् 1975 में जनरल फ्रांसिस्‍को फ्रैंकों की मौत के बाद जबसे लोकतंत्र की बहाली हुई है, यह पहली सरकार है जिसमें महिलाओं को बहुमत दिया गया है। बकौल सांचेज यह उच्‍च योग्‍यता वाली सरकार है, जो समाज में समानता का प्रतिनिधित्‍व करेगी और साथ ही यूरोप और दुनिया में एक नई शुरुआत करेगी। गौरतलब है कि स्‍पेन में लैंगिक समानता को लेकर आठ मार्च को महिलाओं ने हड़ताल की थी। उन्होंने इस दौरान इस हड़ताल का भी जिक्र किया।

स्‍पैनिश कैबिनेट में शामिल मंत्रियों की बात करें तो इसमें कारमन साल्‍वो को उपप्रधानमंत्री और समानता मंत्रालय का जिम्मा दिया गया है। वह पहले संस्कृति मंत्रालय की मुखिया थीं। इसके अलावा नादिया सैल्विनो को वित्‍त मंत्रालय का काम सौंपा गया है। नादिया इससे पहले यूरोपियन कमीशन में बजट डायरेक्‍टर जनरल का पद संभाल रही थीं। वहीं डोलोरेस डेलगाडो को देश का जस्टिस मंत्री बनाया गया है। उन्‍हें ह्यूमन राइट्स और आतंकवाद से जुड़े मामलों में महारत हासिल है। अन्य मंत्रियों में बार्सिलोना में जन्‍मीं मेरिटेक्सेल बैट स्पेन की टेरिटोरियल मिनिस्‍टर बनाई गई हैं और यूरोपियन संसद की अध्‍यक्ष रह चुकी जोसेफ बॉरेल देश की विदेश मंत्री हैं। स्पष्ट है कि स्‍पेन में सारे अहम विभाग महिलाओं को दिए गए हैं। उन्हें केवल खानापूरी के लिए कैबिनेट में शामिल नहीं किया गया है।

प्रधानमंत्री सांचेज ने बाकी विभागों के लिए भी मंत्रियों को सोच-समझ कर चुना है और उनकी विशेषज्ञता को तरजीह दी है। उदाहरण के तौर पर उनकी कैबिनेट में एक एस्‍ट्रोनॉट और एक जर्नलिस्‍ट को भी जगह दी गई है। जी हाँ, सांचेज ने दो स्पेस मिशन लीड कर चुके 55 वर्षीय पेड्रो ड्यूक को देश का साइंस और इनोवेशन मिनिस्‍टर बनाया है। उनके पास वहां की सारी यूनिवर्सिटी की भी जिम्‍मेदारी होगी। वहीं जर्नलिस्‍ट मैक्सिम ह्यूरेता को देश का नया संस्‍कृति और खेलकूद मंत्री बनाया गया है। स्वयं प्रधानमंत्री सांचेज युवा होने के साथ-साथ इकोनॉमिक्स में खासी योग्यता रखते हैं। वह इस विषय के प्रोफेसर रह चुके हैं। उन्‍होंने स्पेन में पिछले हफ्ते हुए चुनावों में कंज‍रवेटिव पार्टी के मारियानो राजो को हराया है।

चलते-चलते स्पेन की नई कैबिनेट से जुड़ी एक अहम बात और। स्पेन की यह कैबिनेट जहां अपने फेमिनिस्ट होने के कारण चर्चा में है वहीं इस बात के लिए भी कि स्पेन के इतिहास में यह पहली सरकार है, जिसने बाइबिल की जगह संविधान की शपथ ली। यानि हर तरह से एक नई शुरुआत।

‘बोल बिहार’ के लिए रूपम भारती

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here