‘पप्पू’ की तर्ज पर ‘गप्पू’ की खोज

0
130
Tejaswi Yadav-Narendra Modi-Rahul Gandhi
Tejaswi Yadav-Narendra Modi-Rahul Gandhi

अभी हाल ही में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तेजस्वी को ‘बच्चा’ कहा था और जवाब में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने कहा था कि तेजस्वी ‘बच्चा’ नहीं, ‘चच्चा’ हैं। ‘चच्चा’ तो खैर तेजस्वी अभी नहीं बने हैं, हां ‘बड़ा’ बनने की कोशिश में जरूर जुटे हैं और इसमें वो मदद ले रहे हैं सोशल मीडिया से। बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री फेसबुक और ट्वीटर पर लगातार सक्रिय रहते हैं और बीच-बीच में कुछ ऐसा कह जाते हैं, जिससे लोगों का ध्यान उन पर चला जाता है और उन्हें चर्चा मिल जाया करती है। ऐसा तब और ज्यादा होता है जब वे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार या प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर कोई टिप्पणी करते हैं।

अब गुरुवार की ही बात लें, तेजस्वी ने प्रधानमंत्री पर टिप्पणी करते हुए न केवल उन पर करारा तंज कसा बल्कि उऩ्हें नया नाम भी दे दिया, जो बेहद रोचक है। अपने ट्वीट में तेजस्वी ने सीधा उनका नाम न लेकर उन्हें ‘गप्पू’ कहकर संबोधित किया है और उनकी तुलना में ‘पप्पू’ (मजाक में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को ‘पप्पू’ कहा जाता है) को बेहतर बताया है। मजे की बात यह कि उन्होंने राहुल का नाम भी सीधे तौर पर नहीं लिया है।

अपने ट्वीट में तेजस्वी ने कहा कि ‘पप्पू’ जहां एक ओर लोकप्रियता में ऊपर जा रहे हैं, वहीं ‘गप्पू’ नीचे आ रहे हैं। उन्होंने आगे कहा, ‘तथाकथित पप्पू सत्ता से दूर रहकर भी अपनी जगह पुख्ता करने में कामयाब रहे, वहीं पेटेंट प्राप्त ‘गप्पू’ सरकारी मशीनरी का बेतहाशा दुरुपयोग करने के बाद भी आज हिचकोले खा रहे हैं।’ बकौल तेजस्वी ‘पप्पू अपने स्वाभाविक गुणों से लोकप्रियता के नए आयाम छू रहे हैं, वहीं झूठे सपनों के सौदागर ‘गप्पू’ का ग्राफ हजारों करोड़ों रुपये आईटी सेल पर खर्च करने के बाद भी नीचे गिर रहा है।’

तेजस्वी यहीं नहीं रुके। उन्होंने विकास के ‘गुजरात मॉडल’ को बनावटी बताते हुए एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘समर्थित संस्थानों में भक्तों से प्रोपगेंडा उगलवा कर अस्थायी सस्ती प्रसिद्धि तो हासिल की जा सकती है, परंतु समय की कसौटी पर जांचने से बनावटी रंग उतर ही जाता है। जिस तरह से ‘गुजरात मॉडल’ और ‘अच्छे दिन’ की लगातार कलई खुल रही है।

बहरहाल, तेजस्वी ने ‘पप्पू’ की तर्ज पर ‘गप्पू’ की खोज तो कर ली है, लेकिन इसको आगे वो कितना भुना पाएंगे, इसका फैसला आने वाला समय ही करेगा।

बोल डेस्क

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here