महिला आरक्षण अब कब?

0
61
Sonia Gandhi-Narendra Modi
Sonia Gandhi-Narendra Modi

साल 2019 के आम चुनाव को लेकर बीजेपी ने तैयारी शुरू कर दी है। महिला तबके को लेकर बीजेपी और प्रधानमंत्री खास ध्यान दे रहे हैं। उज्जवला योजना और तीन तलाक के जरिए बीजेपी ने महिलाओं को साधने की कोशिश की है। यह चर्चा भी है कि शायद चुनाव से पहले एनडीए सरकार महिला आरक्षण बिल लेकर आए और खटाई में पड़े इस विधेयक को पास कराने की कोशिश करे। बीजेपी के लिए यह मुश्किल नहीं है, क्योंकि उसके पास लोकसभा में बहुमत है। शायद इसे भांपते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने यह मुद्दा उठाया है, क्योंकि संसद के उच्च सदन में इसे पास कराने में उनकी अहम भूमिका थी। लोकसभा में यह विधेयक अटक गया था, क्योंकि यूपीए के साथी दल, खासकर सपा, राजद ने इसका विरोध किया था। लोकसभा में इसे यूपीए ने इस डर से पेश नहीं किया था कि कहीं सरकार ही खतरे में न पड़ जाए। वजह चाहे जो भी हो, सोनिया गांधी ने (20 सितंबर 2017 को) पत्र लिखकर महिला आरक्षण मुद्दे को फिर से प्रकाश में ला दिया है। अगर यह विधेयक पारित होता है, तो इसमें उन्हें भी कुछ श्रेय मिलेगा।… यह राजनीति में नया दिन जरूर है, लेकिन प्रधानमंत्री के पास इतनी राजनीतिक ताकत है कि वह वर्षों से लटके इस विधेयक को पारित करवा सकते हैं।

बोल डेस्क [बीबीसी में नीरजा चौधरी]

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here