कानपुर में फिर ट्रेन हादसा!

0
71
saeldah-ajmer-express-train-derails-near-kanpur
saeldah-ajmer-express-train-derails-near-kanpur

अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस की 15 बोगियां बुधवार सुबह 5.16 पर पटरी से उतर गई। हादसा कानपुर देहात के रूरा स्टेशन पर हुआ। हादसों के कारणों का अभी पता नहीं लग पाया है। गौरतलब है कि पिछले ही महीने इंदौर से रवाना हुई इंदौर-पटना एक्सप्रेस की 14 बोगियां कानपुर के पास ही पुखरायां में पटरी से उतर गई थी। इस हादसे में 150 से अधिक लोगों की मौत हुई थी। यही वजह है कि सोशल मीडिया पर आज ये सवाल वायरल हो रहा है कि आखिर कानपुर के पास ही हादसे क्यों हो रहे हैं? दूसरा सवाल जो जेहन में कौंधता है, वो ये कि क्या हमारे राजनेताओं को बुलेट ट्रेन की बात करने से पहले सैकड़ों निरीह यात्रियों की बलि लेने वाली इन पटरियों की मरम्मत नहीं करवानी चाहिए?

बहरहाल, बता दें कि कानपुर देहात का रूरा स्टेशन, जहाँ यह हादसा हुआ, कानपुर से करीब 70 किलोमीटर की दूरी पर है और यह हादसा रूरा स्टेशन के होम स्टार्टर के नजदीक खंभा नंबर 1061/22 के पास हुआ। अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक ट्रेन की 13 बोगियां पटरी से उतर गईं, जबकि दो बोगियां नहर में गिर गईं। स्लीपर कोच नंबर 98222 नहर में गिरी है, जबकि स्लीपर कोच नंबर 11246 नहर में लटकी हुई है। इन बोगियों को निकालने की कोशिश जारी है। हादसे के शिकार हुए ज्यादातर डब्बे स्लीपर बोगी के हैं। अभी तक 70 लोगों के घायल होने और 2 यात्रियों के मरने की पुष्टि हुई है। हालांकि सच यह है कि इस हादसे के बाद कुछ बोगियों के परखच्चे जिस तरह उड़े हैं उन्हें देखकर घायलों व मृतकों की वास्तविक संख्या का अभी अंदाजा लगाना भी मुश्किल है।

गौरतलब है कि इंदौर-पटना एक्सप्रेस हादसे के समय ही रेलवे की एक रिपोर्ट में बताया गया था कि इस रूट की रेल ट्रैक कई जगह अनफिट है। साथ ही इन जगहों पर अधिकतम स्पीड 30 किलोमीटर प्रति घंटा रखने की सलाह दी गई थी। नवंबर में हुए हादसे के बाद इस पूरे रूट की अच्छी तरह जांच की गई थी। इसके बावजूद महज एक महीने बाद यह हादसा किन कारणों से हुआ, इसका खुलासा तो जांच के बाद ही हो पाएगा। अगर जांच सही और निष्पक्ष हुई तो।

बहरहाल, पुलिस, प्रशासन, रेलवे के अधिकारी और स्थानीय लोग राहत और बचाव-कार्य में लगे हुए हैं। सभी घायलों को जिला अस्पताल भेजा गया है। कानपुर और टूंडला जाने के लिए बसों की व्यवस्था की गई है। कानपुर मेडिकल कॉलेज को हाई अलर्ट मोड में रखा गया है।

यह भी बता दें कि इस हादसे के बाद कानपुर के पास नई दिल्ली जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस (ट्रेन नंबर 12033) कैंसल कर दी गई है। कई ट्रेनों को डायवर्ट किया गया है। गोमती एक्सप्रेस को मुरादाबाद के रास्ते डायवर्ट किया गया है। कैफियत एक्सप्रेस (ट्रेन नंबर 12225) को भी मुरादाबाद के रास्ते डायवर्ट किया गया है।

चलते-चलते

आपकी सुविधा के लिए इस हादसे से जुड़ी कोई भी जानकारी पाने के लिए रेलवे द्वारा जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर इस प्रकार हैं: कानपुर – 0512-2323015, 2323016, 2323018, इलाहाबाद – 0532-2408149, 2408128, 2407353, टूंडला – 05612-220337, 220338, 220339 और अलीगढ़ – 0571-2404056, 2404055.

बोल बिहार के लिए डॉ. ए. दीप

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here