नोटबंदी पर नेताओं के चढ़ते-बदलते सुर

0
230
mamta-banerjee-in-patna-with-lalu-rabri-tejaswi-and-others
mamta-banerjee-in-patna-with-lalu-rabri-tejaswi-and-others

नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ आग उगल रहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को नोटबंदी का समर्थन कर रहे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर इशारों में बड़ा हमला बोला। पटना में नोटबंदी के खिलाफ धरना-प्रदर्शन करने पहुँचीं ममता ने कहा कि नोटबंदी पर जो लोग उनका समर्थन नहीं कर रहे हैं, वे गद्दार हैं। हालांकि ममता ने नीतीश का नाम नहीं लिया, पर बिहार की राजधानी में आकर ऐसा बयान देने को स्वाभाविक तौर पर नीतीश से ही जोड़कर देखा जा रहा है।

पटना के गर्दनीबाग में नोटबंदी के खिलाफ धरना देने पहुँचीं ममता के साथ मंच पर आरजेडी के नेता भी मौजूद थे। आरजेडी की ओर से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे और वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह धरने में शामिल हुए। ये अलग बात है कि नोटबंदी पर एक के बाद एक तल्ख बयान देने वाले लालू के सुर मंगलवार को उस वक्त बदल गए जब आरजेडी विधायकों की बैठक में उनके बुलाने पर मुख्यमंत्री नीतीश शामिल हुए और सबके समक्ष नोटबंदी पर अपना दृष्टिकोण स्पष्ट किया और महागठबंधन की एकजुटता का भरोसा दिलाया। अब लालू कह रहे हैं कि वे नोटबंदी के साथ हैं। उनका विरोध केवल इसे लागू किए जाने से हुई अव्यवस्था और बदइंतजामी से है, न कि इसके पीछे छुपे मकसद से।

बहरहाल, धरने के दौरान ममता ने कहा कि जो पार्टियां नोटबंदी के मुद्दे पर हमारा समर्थन कर रही हैं, मैं उन्हें शुक्रिया अदा करती हूँ और जो समर्थन नहीं कर रहे हैं वे गद्दार हैं। उन्होंने कहा कि मौजूदा हालात आपातकाल से भी बदतर हैं, यह आर्थिक आपातकाल है। तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ने कहा – दिक्कत के समय घर की महिला बचत करती है, मोदी ने सब ले लिया। यह स्त्रीधन और स्त्रीशक्ति का अपमान है। ममता ने कटाक्ष करते हुए यहाँ तक कहा कि बच्चे आजकल कहते हैं कि ‘पेटीएम’ के लिए दूसरा शब्द ‘पेपीएम’ है।

बता दें कि पटना में नोटबंदी के खिलाफ धरना-प्रदर्शन के लिए ममता मंगलवार रात ही पटना पहुँच गई थीं। बताया जा रहा है कि नोटबंदी पर नीतीश के रुख के अलावा ममता इस बात से भी नाराज हैं कि नीतीश ने एयरपोर्ट पर उन्हें रिसीव करने के लिए किसी सीनियर मंत्री को नहीं भेजा, जबकि नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन के लिए जब वे लखनऊ पहुँची थीं तब खुद मुख्यमंत्री अखिलेश उन्हें रिसीव करने गए थे। वैसे नोटबंदी पर आरजेडी सुप्रीमो लालू के सुर अब भले ही बदल गए हों लेकिन उन्होंने पत्नी राबड़ी के साथ ममता का अपने घर पर पूरी आत्मीयता और गर्मजोशी से स्वागत किया।

बोल बिहार के लिए डॉ. ए. दीप

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here