ये क्या कह दिया राबड़ी ने?

0
49
rabri-devi
rabri-devi

नीतीश द्वारा नोटबंदी के समर्थन के बाद बिहार की सियासत कुछ इस कदर गरमा चुकी है कि नेताओं के बयान से सभ्यता की परत तक पिघलने लगी है। बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी विधानमंडल दल की नेता राबड़ी देवी की सुशील मोदी पर की गई आज की टिप्पणी इस बात की पुष्टि करती है। हुआ यों कि राबड़ी नीतीश कुमार के भाजपा के करीब होने से जुड़े पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रही थीं। इसी क्रम में एक सवाल पर उनकी जुबान कुछ इस तरह फिसली कि यकीन करना मुश्किल है कि ये टिप्पणी तीन-तीन बार बिहार की मुख्यमंत्री रह चुकीं किसी राजनेता की है। जी हाँ, राबड़ी देवी नोटबंदी के बाद नीतीश के बदले रुख से कुछ इस कदर बौखलाई हुई हैं कि वो बोल बैठीं कि सुशील मोदी नीतीश से अपनी बहन की शादी करा दें।

दरअसल नीतीश कुमार खुलकर नोटबंदी की वकालत कर रहे हैं, जिसे भाजपा से उनकी बढ़ती नजदीकी के रूप में देखा जा रहा है। सुशील मोदी ने इसी संदर्भ में टिप्पणी करते हुए नीतीश को महागठबंधन पर पुनर्विचार करने की सलाह दी थी। पत्रकारों ने इसी बात को लेकर राबड़ी से सवाल किया था जिस पर वो अपना आपा खो बैठीं और उनके मुँह से वो निकल गया जो नहीं निकलना चाहिए था। उन्होंने कहा – “नीतीश कुमार को ले जाएं मोदीजी… अपनी बहन से शादी कराएंगे।” हालांकि कमान से तीर निकल जाने के बाद राबड़ी देवी ने सफाई भी दी। उन्होंने कहा – इसमें क्या आपत्ति की बात है? थोड़ा हंसी-मजाक कर लिया तो क्या? सभी करते हैं ना?

गौरतलब है कि नीतीश कुमार की भाजपा से जिस ‘करीबी’ को लेकर ये हो-हल्ला मचा है, उसे नीतीश अपने तई खारिज कर चुके हैं। यहाँ तक कि प्रत्युत्तर में उन्होंने ये आरोप तक लगाया है कि कुछ लोग ऐसी बात करके उनकी ‘राजनीतिक हत्या’ करना चाहते हैं। उन्होंने सबको आश्वस्त किया है कि बिहार की महागठबंधन सरकार में कोई समस्या नहीं है। अब लोग इसे न मानें तो क्या किया जाय?

बोल बिहार के लिए डॉ. ए. दीप

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here