‘ऐ दिल’, अब नहीं कोई ‘मुश्किल’

0
53

‘ऐ दिल है मुश्किल’ जिस तरह दर्शकों को अपनी ओर खींच रही है उसे देख निश्चित रूप से करण जौहर फिल्म रिलीज होने से पहले आई ‘मुश्किलों’ को भूल गए होंगे। रणबीर कपूर भी चैन की सांस ले रहे होंगे जिन्हें लम्बे अरसे से एक अदद हिट का इन्तजार था। ऐश्वर्या राय को भी इस बात की तसल्ली होगी कि उनकी संक्षिप्त लेकिन दमदार उपस्थिति चर्चा में है और अनुष्का, जो इस बात को लेकर सशंकित लगती थीं कि ऐश्वर्या की मौजूदगी उन पर हावी न हो, यह देखकर रोमांचित होंगी कि उनका बिन्दास अभिनय फिल्म का एक बड़ा आकर्षण साबित हुआ है। कुल मिलाकर ‘ऐ दिल’ की राह में अब दूर-दूर तक कोई ‘मुश्किल’ नहीं।

जैसा कि नाम से स्पष्ट है, करण जौहर की यह बहुप्रतीक्षित फिल्म एक रोमांटिक ड्रामा है, जिसमें एकतरफा प्यार और तीन किरदारों अयान (रणबीर कपूर), अलीजा (अनुष्का शर्मा) और सबा (ऐश्वर्या राय) की एक के बाद एक कई मोड़ों से गुजरती ज़िन्दगी दिखाई गई है। खास बात यह कि करण जौहर ने इस फिल्म को डायरेक्ट करने के साथ-साथ लिखा भी है। इस कारण फिल्म को मिलने वाली तारीफों का एक बड़ा हिस्सा उनके खाते में जाना लाजिमी है। यह करण का कमाल है कि एक रूटीन लव स्टोरी को उन्होंने ट्विस्ट एंड टर्न्स की मदद से बेहद रोचक बना दिया है।

इंटरवल से पहले फिल्म में मौज-मस्ती का पुट है जो जाहिर तौर पर यंग्सटर्स को अपनी ओर खींचेंगे, वहीं इंटरवल के बाद फिल्म में इमोशन्स का तड़का है। हालांकि सेकंड हाफ में फिल्म की रफ्तार थोड़ी थम-सी जाती है, लेकिन सुरीला संगीत और खूबसूरत विदेशी लोकेशन फिल्म को थामे रखने के लिए काफी हैं। स्क्रिप्ट की डिमांड के मुताबिक करण ने फिल्म की शूटिंग लंदन, पेरिस और ऑस्ट्रिया में की है। जहाँ तक म्यूजिक की बात है तो वो शुरू से करण की फिल्मों का यूएसपी रहा है। बुलया, ब्रेकअप और टाइटिल सॉन्ग ऐ दिल है मुश्किल पहले से ही म्यूजिक चार्ट में टॉप फाइव में शामिल हो चुके हैं। इन गानों को पूरी भव्यता के साथ और आज की पीढ़ी को ध्यान में रखकर फिल्माया गया है।

कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि फिल्म के ट्रेलर से लोगों ने जो उम्मीदें पाली थीं, ऐ दिल है मुश्किल उन उम्मीदों पर खरी उतरती नज़र आ रही है। पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान और इमरान अब्बास की मौजूदगी, फिल्म को विवाद और चर्चा देने के साथ-साथ ताजगी भी देती है, इससे आप इनकार नहीं कर सकते। और हाँ, शाहरुख खान, आलिया भट्ट और दीप्ति नवल के छोटे-छोटे पोर्शन भी फिल्म के लिए किसी ऐसेट से कम नहीं हैं।

बोल बिहार के लिए डॉ. ए. दीप

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here