राबड़ी की जगह मीसा को राज्य सभा यानि दिल्ली में भी अगली पीढ़ी

0
99
Lalu with daughter Misa
Lalu with daughter Misa

बिहार की विरासत तेजस्वी और तेजप्रताप को देने के बाद लालू अब दिल्ली की राजनीति में भी ड्राइविंग सीट अपनी अगली पीढ़ी को सौंप रहे हैं। राज्य सभा के लिए राजद कोटे से वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के नाम तय माने जा रहे थे लेकिन राजनीति के माहिर खिलाड़ी लालू ने नामांकन से ठीक पहले मीसा का नाम आगे कर दिया। राम जेठमलानी को लेकर कोई दुविधा नहीं थी लेकिन राबड़ी की जगह अब मीसा राज्य सभा जा रही हैं।

मीडिया में काफी दिनों से कहा जा रहा था कि लालू को राष्ट्रीय राजनीति में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए दिल्ली में एक बड़ा आशियाना चाहिए, जो राबड़ी के राज्य सभा जाने पर ही सम्भव हो सकता था। पूर्व मुख्यमंत्री होने के कारण उन्हें स्वाभाविक रूप से बड़ी कोठी मिलती। जबकि मीसा पहली बार किसी सदन जाएंगी और उन्हें बड़ा आवास मिलना सामान्यतया कठिन होगा। बहरहाल, लालू ने राज्य सभा में अपनी और पार्टी की दमदार उपस्थिति दर्ज कराने के लिए मीसा के पक्ष में फैसला लिया। वैसे भी दिल्ली में राष्ट्रीय स्तर के ज्यादातर नेताओं की अगली पीढ़ी पहले से ही सक्रिय है। उन सबको देखते हुए मीसा को लाना राजनीतिक रूप से बेहतर विकल्प था लालू के लिए।

तेजस्वी और तेजप्रताप के सक्रिय होने के बहुत पहले से मीसा राजनीति में हाथ आजमाने लगी थीं। पिछले कुछ चुनावों में आरजेडी की स्टार प्रचारक भी रहीं वो। प्रचार के साथ-साथ प्रबंधन और भाषण पर भी उनकी अच्छी पकड़ है। बिहार और देश के महत्वपूर्ण मुद्दों पर सोशल मीडिया में उनकी सक्रियता लगातार देखी जा सकती है। अगर लालू ने उनसे उम्मीदें बांधी हैं तो ये अकारण हरगिज नहीं। हाँ, अब लालू राज्य सभा की उम्मीद रखने वाले रघुवंश प्रसाद सिंह, प्रभुनाथ सिंह और जगदानंद सिंह जैसे पार्टी के सीनियर नेताओं को कैसे समझाते और मनाते हैं, ये देखना दिलचस्प होगा।

उधर भाजपा आलाकमान ने तमाम अटकलों को विराम देते हुए अपने कोटे की एक सीट के लिए पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गोपाल नारायण सिंह के नाम पर मुहर लगा दी। बता दें कि इस एक सीट के लिए पार्टी के भीतर और बाहर पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के नाम की खूब चर्चा थी।

बोल बिहार के लिए डॉ. ए. दीप

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here